Top

मुज़फ्फरनगर की जनता के नायक बन गये है अनंत देव तिवारी बदमाशो का एनकाउंटर में लगाया सिक्सर

मुज़फ्फरनगर की जनता के नायक बन गये है अनंत देव तिवारी बदमाशो का एनकाउंटर में लगाया सिक्सर

मुजफ्फरनगर: जिला मुज़फ्फरनगर को क्राइम केपिटल कहा जाता है यहां के अपराधी पूरे देश मे घटनाओ को अंजाम देकर मुजफ्फरनगर को मशहूर करने में कोई कसर नही छोड़ना चाहते है लेकिन एनकॉउंटर स्पेस्लिस्ट कहे जाने वाले अनंन्त देव ने इन बदमाशो के बीच अपराध करने में जैसे रोड़ा बन गये है तभी तो उन्होंने आज शहर कोतवाली और सिखेडा पुलिस ने मिलकर कई दिन पहले मेरठ के परतापुर इलाके में डबल मर्डर को अंजाम देने वाले 50 हजारी विकास जाट को शहर कोतवाली इलाके के रोहना में मार गिरा कर एनकाउंटर में अनन्तदेव और उनकी टीम ने आज सिक्सर लगा दिया है जिससे मुज़फ्फरनगर की जनता में अनंत देव की जय जयकार हो रही है और अब मुज़फ्फरनगर से क्राइम कैपिटल का दर्जा ख़त्म होने की कगार पर है
मुज़फ्फरनगर में एसएन सावंत , आशुतोष पांडये ओर नवनीत सिकेरा के बाद इस जनपद में पुलिस ने बदमाशों का एनकॉउंटर करना क्या बंद किया बदमाश पुलिस और पब्लिक पर हावी होने लगे थे। जरायम बढ़ रहा था ऐसे में पहले यूपी का निजाम बदला ओर फिर पुलिस के बड़े अफसरों में भी बदलाव हुआ। मुजफ्फरनगर के कप्तान की कमान मिली बीहड़ के जंगलों में कुख्यातों का खात्मा करने वाले अनंन्त देव तिवारी को। कुछ दिन तो अनंन्त देव रमजान, ईद फिर कांवड़ के पर्व को सकुशल सम्पन्न कराने में लगे रहे जैसे ही अनंत देव फ्री हुए ऐसे ही बदमाशो पर पुलिस का इकबाल बुलंद होने लगा। मुजफ्फरनगर में तैनात एनकाउंटर स्पेशलिस्ट कहे जाने वाले आईपीएस अफसर अनंतदेव ने भी क्राइम केपिटल से मशहूर मुजफ्फरनगर के अपराधियों के खिलाफ अभियान छेड़ दिया । पुलिस बदमाशो के पीछे लग गयी और इसकी शुरुआत की जानसठ के सीओ एसकेएस प्रताप ओर मीरापुर इंस्पेक्टर अरविन्द कुमार, एसआई मनोज चौधरी, पवन शर्मा की टीम ने 50 हजार के इनामी नितिन को मुठभेड़ में मार गिराया, इसके बाद ककरोली के तत्कालीन थाना प्रभारी वर्तमान में जानसठ कोतवाल अनिल कुमार व सब इंस्पेक्टर विजय त्यागी की टीम ने इनामी बदमाश नदीम को एनकाउंटर में ढेर कर दिया।
अब नंबर था लगातार एनकाउंटर में बदमाशो को अस्पताल और फिर बड़े घर भेजने में जुटे तत्कालीन खतौली इंस्पेक्टर और अब बरेली में सीओ पीपी सिंह का, पीपी सिंह और सब इंस्पेक्टर सूबे सिंह यादव वर्तमान में थाना प्रभारी तितावी व क्राइम ब्रांच की टीम ने जान मोहम्मद उर्फ जानू को पुलिस एनकाउंटर में ढेर कर दिया, फिर बुढ़ाना के तत्कालीन कोतवाल चमन सिंह चावड़ा और वर्तमान में छपार के थानाध्यक्ष आदेश त्यागी की टीम ने पचास हजार के इनामी फुरकान को यमलोक का रास्ता दिखाकर अपने कप्तान अनंतदेव का मुजफ्फरनगर में एनकाउंटर का चौका लगाया था। अनंत देव की टीम का एनकाउंटर अभियान यहीं नहीं रूका। पिछले दिनों सीओ जानसठ एस के एस प्रताप के नेतृत्व में वर्तमान में रतनपुरी के थाना प्रभारी विरेन्द्र कसाना ने दिल्ली के साथ मिलकर एक लाख के ईनामी बदमाश शमीम को एनकाउंटर में ढेर कर मुजफ्फरनगर जनपद में पुलिस का इकबाल बुलन्द करने का काम किया था। आज अनंत देव की मुजफ्फरनगर पुलिस ने ईनामी कुख्यात बदमाश विकास जाट को में सीधी मुठभेड़ में मार गिराकर एनकाउंटर में अनंत देव का सिक्सर लगा दिया है। इसके साथ साथ अनंत देव और उनकी टीम अब तक लगभग 50 से अधिक बदमाशो को पुलिस के पीतल का मजा चखाकर बड़े घर को रवाना कर दिया है जिस कारण बदमाशो में पुलिस की दहशत घर कर गयी है
एसएसपी अनंत देव तिवारी का बदमाशो के खिलाफ लगातार अभियान का नतीजा रहा है कि क्राईम कैपिटल कहे जाने वाले मुजफ्फरनगर में अब अपराध निचले स्तर पर आ गया है, नवंबर, दिसम्बर जनवरी के महीनों में जब कड़ाके की सर्दी एवं कोहरे के कारण पिछले तीन दशक से डकैती, लूट, रोड होल्डअप, कोल्हुओं पर अपहरण व लूट के मुकदमों की भरमार रहती थी, इस बार इन घटना की संख्या जीरो रही है, जिसका श्रेय पूरी तरह से एसएसपी अनंत देव तिवारी को जाता है, क्योंकि अनंत देव का मुजफ्फरनगर के बदमाशो को साफ संदेश है कि यदि मुजफ्फरनगर में अपराध करोगे तो तुम्हारी खैर नहीं है।

epmty
epmty
Top