Top

हरदौई में हाईस्कूल के पेपर आउट मुजफ्फरनगर में बदले गए पांच कोड के पेपर

हरदौई में हाईस्कूल के पेपर आउट मुजफ्फरनगर में बदले गए पांच कोड के पेपर

मुजफ्फरनगर : यूपी बोर्ड परीक्षा से पहले हरदौई में हाईस्कूल के पेपर आउट हो गए। यहां से हिंदी, इंग्लिश और गणित का पेपर भी शामिल है। पेपर आउट होने से यूपी के 13 जनपदों में परीक्षा की तैयारियों में व्यवधान पड़ गया। क्योंकि मंगलवार सुबह की पॉली में हिंदी की परीक्षा होनी है, जबकि पेपर आउट होने में हिंदी का प्रश्न-पत्र भी है। इसका असर जनपद तक पहुंचा तो अफसरों में हड़कंप मच गया। तत्काल ही बोर्ड ने जहां-जहां एक कोड के पेपर जारी किए गए थे, उन्हें बदला गया है। इसको लेकर जीआईसी दिनभर नए कोड से जारी हुए पेपरों को वितरित करने का कार्य किया गया।
यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं मंगलवार (आज) प्रारंभ होनी है। परीक्षा से दो दिन पूर्व शनिवार को हरदौई जिले में एक सेंटर से हाईस्कूल परीक्षा के पांच पेपर आउट हो गए। इससे बोर्ड और शासन में हड़कंप मच गया। जांच की गई तो प्रश्न-पत्र हिंदी (कोड-801), इंग्लिश (कोड-817), विज्ञान (कोड-824), सामाजिक विज्ञान (कोड-825), प्रारंभिक गणित (कोड-726) पेपर का बंडल नहीं मिल सका है। जिसके चलते हरदौई, मथुरा, बुलंदशहर, रामपुर, संभल, कानपुर (नगर), हमीरपुर, इलाहाबाद, सुल्तानपुर, बस्ती, गोरखपुर और मुजफ्फरनगर जिलों में पेपर आउट होने से हड़कंप मच गया। प्रश्न-पत्रों के आउट होने की गूंज शासन तक पहुंच गई। इस पर प्रशासनिक मशीनरी हरकत में आई। आनन-फानन में आउट हुए पेपर के स्थान पर दूसरे कोड के प्रश्न-पत्रों को 13 जनपदों में भिजवाया गया। जनपद में भी रविवार शाम तक पेपर भेजे गए। ऐसे में डीआईओएस स्तर से सभी सेंटरों पर पूर्व में वितरित किए गए प्रश्न-पत्रों को तत्काल जीआईसी में मंगवाया। नगर-देहात में परीक्षा के लिए 74 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जिन पर सूचना भेजी गई। सोमवार को केंद्रों से पुराने कोड के पेपर वापस लिए गए। जबकि नए कोड से उन्हें पेपर वितरित किए गए। इस प्रक्रिया में डीआईओएस कार्यालय का पूरा दिन बीत गया। डीआईओएस मुनेश कुमार ने बताया कि शासन के आदेश पर कुछ पेपरों में तब्दीली की गई है। जिसके चलते उन्हेंं बदला गया है, हालांकि यह बदलाव किस कारण से किया है। इसकी जानकारी नहीं है। कर्मचारियों को लगाकर पेपर बदले गए हैं।

epmty
epmty
Top