Top

राष्ट्रीय व राज्य पुरस्कार प्राप्त शिक्षक समाज के लिए रोल माॅडल : सुरेश कुमार खन्ना

लखनऊ: शिक्षक अपने आपमें समाज के लिए अनुकरणीय होता है। शिक्षक हमे सत्य एवं न्याय का हमेशा साथ देने की शिक्षा देता है, अतएवं वह हमारे लिए पूजनीय है। राष्ट्रीय एवं राज्य पुरस्कार प्राप्त शिक्षक तो और भी आदर के पात्र होते है क्योकि लम्बी तपस्या और परिश्रम के बाद उन्हें यह सम्मान मिलता है। अतः राष्ट्रीय एवं राज्य पुरस्कार से सम्मानित शिक्षक समाज के लिए रोल माॅडल होता है।
ये उद्गार आज प्रदेश के नगर विकास एवं ससंदीय कार्यमंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने पुरस्कृत शिक्षक वेलफेयर सोसायटी उत्तर प्रदेश द्वारा राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय पुरस्कार प्राप्त शिक्षको के प्रान्तीय सम्मेलन के अवसर पर राजकीय इण्टर कालेज निशातगंज लखनऊ में व्यक्त किये। वे आज इस सम्मेलन में मुख्य अतिथि के तौर पर बोल रहे थे।
उन्होंने भगवद् गीता के श्लोक का उदाहरण देते हुए कहा कि समाज में प्रतिष्ठित पदों पर बैठे लोग जैसा आचरण करते है, समाज उसी का अनुसरण करता है। समाज में शिक्षकों का विशिष्ट स्थान है। इसलिए वह आगे आने वाली पीढ़ी को नयी दिशा दे सकता है। इसलिए मौजूदा परिस्थितियों में शिक्षकों की और जिम्मेदारी बनती है कि राष्ट्र निर्माण और समाज में एक आदर्श जीवन जीने के लिए युवाओं के प्रेरण श्रोत बने।
नगर विकास एवं ससंदीय कार्यमंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा कि शिक्षक का योगदान समाज के लिए बेहद जरूरी है उन्होंने कहा कि अच्छाई में सकारात्मक परिवर्तन लोने की ताकत होती है इसलिए इसका प्रचार प्रसार दूर-दूर तक होना चाहिए।
इस अवसर पर माननीय मंन्त्री जी के समक्ष माॅग पत्र प्रस्तुत किया गया जिस पर उन्होंने कहा कि इस पर सहानुभूति पूर्वक विचार किया जायेगा।
इस अवसर पर बी0एन0 खरे इत्यादि उपस्थित रहे।

epmty
epmty
Top