Top

कैप्टन और सिद्धू के बीच टकराव कांग्रेस हाई कमान के लिए चुनौती

कैप्टन और सिद्धू के बीच टकराव कांग्रेस हाई कमान के लिए चुनौती

चण्डीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और उनके मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बीच तनाव बरकरार है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का हस्तक्षेप भी कारगर साबित नहीं हुआ।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भले ही मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को सलाह दी थी कि स्थानीय सरकार के बारे में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू से बात करके मतभेदों को दूर किया जाए, पर लगता है कि राहुल की बात का कैप्टन पर कोई असर नहीं हुआ, इसलिए तो कैप्टन और सिद्धू की अभी तक कोई भी मीटिंग नहीं हो सकी है। कैप्टन और सिद्धू के बीच टकराव का माहौल कांग्रेस हाई कमान के लिए चुनौती बनता जा रहा है।
कांग्रेस सरकार के सत्ता में आने के कुछ महीने बाद ही मतभेद शुरू हो गए थे पर मेयर चुनावों की प्रक्रिया में सिद्धू को दरकिनार कर देने के कारण ये मामला सार्वजनिक रूप से उजागर हो गया। कांग्रेसी सूत्रों के मुताबिक कैप्टन की हाल ही में राहुल गाँधी के साथ मीटिंग हुई थी और राहुल गाँधी ने नवजोत सिंह सिद्धू के साथ बिगड़ रहे संबंधों पर विचार किया था और उन्होंने मतभेद जल्द दूर करने की सलाह दी थी। कैप्टन और राहुल गाँधी के बीच हुई मीटिंग के दौरान कांग्रेस के और नेता भी मौजूद थे। राहुल गांधी के दखल के बाद भी, दोनों नेताओं में सुलह नहीं होना पार्टी के लिए चिंता का कारण बनता जा रहा है।

epmty
epmty
Top