Top

सऊदी अरब में महिलाओं ने पहली बार स्टेडियम में फुटबॉल मैच देखा

सऊदी अरब में महिलाओं ने पहली बार स्टेडियम में फुटबॉल मैच देखा

रियाद : सऊदी अरब में युवराज मोहम्मद बिन सलमान के उदारवादी विचार दिखाई पड़ने लगे हैं। वहां बदलाव की बयार चलने लगी है। सऊदी में महिलाओं ने पहली बार स्टेडियम में मैच देखा।
महिलाओं के प्रति अति रूढिवादी देश सऊदी अरब में कल पहली बार महिलाओं को स्टेडियम में बैठकर फुटबॉल मैच का लुत्फ उठाने की इजाजत दी गयी थी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक महिलाओं के लिए जेद्दाह के किंग अब्दुल्ला स्पोर्ट्स सिटी स्टेडियम में खास दीर्घा बनायी गयी। इसके साथ ही विशेष रेस्टरूम और अलग प्रवेश द्वार भी बनाये गये। महिला दर्शकों के स्वागत के लिए महिला कर्मचारी तैनात की गयीं। स्टेडियम में महिलाओं के बैठने के लिए अलग से 'परिवार दीर्घा' बनाये गये जहां बैठकर महिलाओं ने जमकर मैच का लुत्फ उठाया, खूब सेल्फी ली और अपनी पसंदीदा टीम का हौसला बढ़ाया। रूढ़िवादी देश के रूप में अपनी पहचान रखने वाले सऊदी अरब ने हाल के दिनों में महिलाओं पर लगे प्रतिबंध में छूट दी है। सऊदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान के महत्वाकांक्षी सुधार कार्यक्रमों से जोड़ कर देखा जा रहा है। इसमें महिलाओं को अगले जून से वाहन चलाने की अनुमति देना भी शामिल है।
अल-अहली और अल-बातिन टीमों के बीच खेले गए मैच को देखने महिलाएं स्टेडियम पहुंचीं। इस दौरान उनके पति, बच्चे और दोस्त भी साथ थे। स्पोर्ट्स अथॉरिटी ने अक्टूबर में यह घोषणा की थी कि जेद्दाह, दम्माम और रियाद में स्टेडियमों को इस तरह तैयार किया जाएगा कि साल 2018 में परिवार उसमें बैठ सकें। अल-अहली और अल-बातिन टीमों के बीच खेले गए मैच को देखने महिलाएं स्टेडियम पहुंचीं। इस दौरान उनके पति, बच्चे और दोस्त भी साथ थे। स्पोर्ट्स अथॉरिटी ने अक्टूबर में यह घोषणा की थी कि जेद्दाह, दम्माम और रियाद में स्टेडियमों को इस तरह तैयार किया जाएगा कि साल 2018 में परिवार उसमें बैठ सकें।

epmty
epmty
Top