Top

राजकीय नलकूपों की समीक्षा विद्युत एवं यांत्रिक दोषों को दूर करके नलकूपों को सुचारू रूप से संचालित किया जाय : बलदेव सिंह औलख

राजकीय नलकूपों की समीक्षा विद्युत एवं यांत्रिक दोषों को दूर करके नलकूपों को सुचारू रूप से संचालित किया जाय : बलदेव सिंह औलख

लखनऊ : उ0प्र0 के सिंचाई यांत्रिक राज्यमंत्री बलदेव सिंह औलख ने सभी अधीक्षण अभियन्ता एवं अधिशाषी अभियन्ताओं को निर्देश दिये कि क्षेत्रों में जाकर नलकूपों, लघु डाल नहरों एवं पम्प नहरों की मौके पर निरीक्षण करें। उन्होंने निर्देश दिये कि नलकूपों का निरीक्षण करके छोटी मियों को दूर करके किसानों को सिंचाई के लिए पानी आपूर्ति सुनिश्चित करें। बलदेव सिंह औलख ने कहा कि विद्युत एवं यांत्रिक दोषी को दूर करके नलकूपों का संचालन सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश कि उ0प्र0 सरकार की शीर्ष प्राथमिकता में किसान है। मा0 मुख्यमंत्री जी का स्पष्ट निर्देश है कि किसानों के साथ किसी भी प्रकार लापरवाही नहीं होनी चाहिए। किसानों की मांग के अनुसार सिंचाइ्र के लिए पानी हर-हाल में उपलब्ध कराया जाये।
बलदेव सिंह औलख आज सिंचाई विभाग के मुख्यालय पर यांत्रिक संगठन के अधिकारियों के साथ नलकूपों, लघु डाल नहरों एवं पम्प नहरो की समीक्षा कर रहे थें उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि नहरों की शीर्ष यांत्रिक कार्यों को सुचारू रूप से संचालित करें। बलदेव सिंह औलख ने कहा कि वृहद एवं मध्यम पम्प नहरों की जल वितरण प्रणाली का रखरखाव एवं सींच दर्ज कराया जाये। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि बांधों/बैराजों के गेट्स एवं सहायक जल यांत्रिक संयत्रों का भी लगातार अनुरक्षण करते रहें।
राज्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों की शिकायतों को गम्भीरता से ले तथा किसी भी दशा में उसे तत्काल निस्तारित करें। उन्होंने कहा कि पम्प नहरों एवं लघु, डाल नहरों की नालियों को कोई भी किसान तोड़ने न पायें। सभी किसानों के खेतों तक पानी हरहाल में पहुंचना चाहिए। श्री औलख ने कहा कि आवश्यकता के अनुसार नलकूपों को रिबोर करे तथा पाइप की बालू/मिट्टी की सफाई करके पानी की आपूर्ति की जाये। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि अनुपयोगी समानों की निलामी कराके पैसे को सरकारी राजस्व में जमा करा दें ताकि उसका सदुपयोग किया जा सके तथा जिसकी आवश्यकता हो उसका स्टीमेट बनाकर शासन को भेज दें।

epmty
epmty
Top