Top

हुकुम सिंह की श्रद्धांजलि को आये सीएम योगी ने कमिश्नर-डीएम की ली क्लास

मुजफ्फरनगर : कैराना सीट से भाजपा सांसद हुकुम सिंह का आकस्मिक निधन हो जाने के बाद रविवार को उनको श्रद्धांजलि देने के लिए आये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का काफिला हुकुम सिंह के मायापुर स्थित फार्म हाउस तक पहुंचने के दौरान सड़कों के गडढों में हिचकोले क्या खाया कि कमिश्नर और डीएम सहित अन्य अफसरों की जान मुसीबत में आ गयी। सड़कों के किनारे गन्दगी, सड़कों में गडढे और उठ रहे धूल व गुबार को देखकर सीएम इतने नाराज हुए कि हुकुम सिंह को श्रद्धांजलि देने के उपरांत उन्होंने वहां मौजूद कमिश्नर, डीएम और एडीएम सहित अन्य अफसरों को जमकर लताड़ पिलाई।
सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को सवेरे करीब सवा दस बजे कैराना के विजय सिंह पथिक इण्टर काॅलेज पर बने हैलीपेड पर हेलीकाॅप्टर से पहुंचे। यहां से वो कार से हुकुम सिंह के मायापुर स्थित फार्म हाउस पर जाने के लिए रवाना हुए, सीएम योगी को इस सफर के दौरान रास्ते मे भयंकर गंदगी मिली, इस पर वहां पर मौजूद अधिकारियों को फटकार लगाने के साथ ही सीएम योगी ने दो दिन में वहां पर सफाई करने का निर्देश दिया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने हेलीपैड से सांसद के आवास तक सड़क के बेहद खराब होने पर नारागजी जताई। उनकी गाड़ी गडढों में हिचकोले लेते हुए पहुंची। गडढामुक्त अभियान का ये हश्र देखकर सीएम योगी का पारा चढ़ गया। उन्होंने इसके लिए वहां पर उपस्थित कमिश्नर के साथ कार्यवाहक डीएम व एसडीएम को जमकर फटकारा। इसके बाद सीएम हुकुम सिंह के परिवार से मिले, उनको संवेदना व्यक्त करते हुए हर कदम साथ रहने का भरोसा दिया। इसके पश्चात शामली से लखनऊ लौटे गए।
उन्होंने कैबिनेट मंत्री सतीश महाना और गन्ना मंत्री सुरेश राना के समक्ष ही इसको लेकर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। इसको लेकर जब मुख्यमंत्री दोनों मंत्रियों के साथ अफसरों की कार्यप्रणाली को लेकर नाराजगी व्यक्त कर रहें, तो उस समय की वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। इस वीडियो में सीएम योगी अफसरों को निर्देश दे रहे हैं कि तत्काल गन्दगी हटवायी जाये, वहां ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव कराने के साथ ही रास्ते में पानी का छिड़काव करायें ताकि धूल मिट्टी न उड़े। सीएम योगी के सख्त रवैये को देखकर शामली के अफसरों के होश उड़े रहे।
त्रिपुरा में फंसे गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने फोन कर जताई संवेदना
सांसद हुकुम सिंह को वर्तमान में केन्द्रीय गृह मंत्री और यूपी में मुख्यमंत्री रहे राजनाथ सिंह का काफी करीबी माना जाता रहा है। राजनाथ सरकार में वो कैबिनेट मंत्री भी रहे। उनके निधन का समाचार मिलने पर बीती रात ही राजनाथ सिंह ने ट्विटर पर शोक संवेदना व्यक्त करते हुए इसे भारतीय राजनीति की अपूर्णीय क्षति करार दिया था। आज उनके आने की पूरी संभावना थी, लेकिन वो नहीं आ सके। यूपी के गन्ना मंत्री सुरेश राना ने बताया कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह त्रिपुरा में होने के कारण नहीं आ सके। समय का अभाव होने के कारण उनके द्वारा सुबह दिवंगत सांसद हुकुम सिंह की पुत्री मृंगाका सिंह को फोन किया और शोक संवेदना व्यक्त की।

epmty
epmty
Top