Top

पीडित महिलाएं अपनी समस्या महिला आयोग के समक्ष रखे । डाॅ प्रिंयवदा तोमर

पीडित महिलाएं अपनी समस्या महिला आयोग के समक्ष रखे । डाॅ प्रिंयवदा तोमर

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्य डाॅ प्रिंयवदा तोमर ने आज कलैक्ट्रेट सभागार में अधिकारियों के साथ महिला उत्पीडन एवं घरेलू हिंसा से सम्बन्धित प्रकरणो की जन सुनवाई/समीक्षा बैठक करते हुए निर्देश दिये कि महिला उत्पीड़न की शिकायत आने पर 181 द्वारा ऐसे मामलों में तत्काल कार्यवाही सुनिश्चत करायी जाये। उन्होने कहा कि महिलाओं को उनके अधिकारों की जानकारी न होने पर कई प्रकरण सुलझ नही पाते है।






महिलाओ के अधिकारों के लिए अधिक से अधिक प्रचार प्रसार कराया जाये। उन्होने कहा कि महिला उत्पीड़न की रोकथाम एवं पीडित महिलाओं को त्वरित न्याय दिलाये जाने तथा आवेदक/आवेदिकाओं की सुगमता की दृष्टि से वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों की उपस्थिति में महिला उत्पीडन की घटनाओं की समीक्षा की जा रही है ताकि पीडित महिलाओं की समस्याओं का निराकरण किया जा सके।
उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्य डाॅ प्रिंयमवदा तोमर ने कहा कि पीडित महिलाएं अपनी समस्या महिला आयोग के समक्ष जरूर रखें। उन्होने कहा कि कोई भी पीडित महिला अपनी समस्या महिला आयोग के समक्ष रख सकती है।

उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्य डाॅ प्रिंयमवदा तोमर ने कहा कि आज 16 पीडित महिलाओ द्वारा प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किये गये है उन आवेदनों का गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण कराया जाये। उन्होने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। पीडित महिलाओं के उत्पीडन सम्बन्धी मामलों में त्वरित गति से कार्यवाही करते हुए पीडित महिलाओं को न्याय दिलाया जाये। महिला थानाध्यक्ष को निर्देषित किया गया है कि यदि कोई महिला अपना प्रार्थना पत्र देती है तो उसे प्राथमिकता के आधार पर उसका तत्काल निस्तारण किया जायें।

उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्य डाॅ प्रिंयमवदा तोमर द्वारा महिला जनसुनवाई मे एक-एक महिलाओं को बुलवाकर उनकी समस्याओं को सुनकर समाधान हेतू संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया गया है। उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्य डाॅ प्रिंयमवदा तोमर द्वारा जिला प्रोबेशन अधिकारी से पीडित महिलाओं के प्रकरण आने के संबंध मे जानकारी की गयी तो जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा बताया गया कि यदि किसी महिला या आम नागरिक के द्वारा पीडित महिला के संबंध मे जानकारी दी जाती है तो तत्काल 181 महिला हेल्प लाईन आषा ज्योति केन्द्र को सूचित करते हुएं पीडित महिला को संरक्षण प्रदान किया जाता है।
इस अवसर पर एसपी सिटी सतपाल अंतिल,सीओ सिटी हरीश भदौरिया, जिला प्रोबेशन अधिकारी मौ0 मुशफेकीन, बीना शर्मा ऐसोशियेट वूमन पाॅवर हैल्प लाईन,प्रभारी महिला थाना मोनिका चौहान, प्रभारी महिला हेल्प लाइन 181 के साथ ही अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण भी उपस्थित थे। ।

epmty
epmty
Top