Top

चंबल अटल प्रोग्रेस-वे के लिए खुशी खुशी किसान दे रहें हैं जमीन: शिवराज

चंबल अटल प्रोग्रेस-वे के लिए खुशी खुशी किसान दे रहें हैं जमीन: शिवराज

मुरैना। मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कहा कि चंबल अटल प्रोग्रेस-वे के लिए किसान खुशी खुशी जमीन दे रहे हैं, जिसके लिए वह उनका धन्यवाद करते हैं।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार चौहान से यहां छह किसानों ने मुलाकात की और चंबल अटल प्रोग्रेस -वे के लिए स्वेच्छा से खुशी-खुशी अपनी जमीन देने की बात कही। इस मौके पर चौहान ने जमीन देने वाले किसानों को आश्वासन किया कि उन्हें चिंता करने की जरूरत नहीं है। प्रदेश की सरकार आपके साथ है। जितनी किसान जमीन देगा, उससे दोगुनी जमीन सरकार किसानों को देगी।

इस अवसर पर केन्द्रीय कृषि ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया मौजूद रहे। सभी 6 किसानों ने मुख्यमंत्री के सामने खुश होकर कहा कि मुख्यमंत्री ने चंबल अटल प्रोग्रेस-वे को स्वीकृति दिलाकर हमारे क्षेत्र को चमन कर दिया है। हमारी आगे आने वाली पीड़ी को इस प्रोग्रेस-वे से रोजगार धंधे मिलेंगे। सबसे बड़ी खुशी की बात यह है कि जो जमीन हमें बदले में मिल रही है, वो भी विकसित करके दी जा रही है और चंबल अटल प्रोग्रेस-वे के किनारे की जमीन हमें दी है, जिस पर हम ढ़ाबा होटल सहित अन्य धंधे खोल सकते है।

इस मौके पर राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि सभी को सिंचित जमीन मिलेगी। जमीन देने वाले किसानों में श्योपुर जिले के ग्राम सामरसा की जलेबीबाई है, जिन्होंने चंबल अटल प्रोग्रेस-वे को जमीन आधा हेक्टेयर जमीन दी है, बदले में इन्हें दातरदा में एक हेक्टेयर जमीन दी गई है। श्योपुर के ही बनवाड़ा में नवलकिशोर प्रजापति ने दो बीघा जमीन दी है, बदले में सरकार ने 4 बीघा जमीन दी है।

इसके अलावा दातरदाकलां रामलखन बेरवा ने ढ़ाई बीघा जमीन प्रोग्रेस-वे को दी है। मुरैना जिले के रिठौनाकलां के पुरूषोत्तम पटेल ने 6 बीघा जमीन दी है। रिठौनाकलां के ही प्रदीप सिंह तोमर ने 6 बीघा जमीन दी है। इसी तरह अंबाह के ऐसाह गांव के जगदीश शर्मा ने 16 बिस्सा जमीन चंबल अटल प्रोग्रेस-वे को दी है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री चौहान, केन्द्रीय कृषि ग्रामीण विकास मंत्री तोमर और राज्यसभा सांसद सिंधिया ने प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों से भेंट की।

सं बघेल वार्ता

epmty
epmty
Top