Top

कांग्रेस के पास चुनावी मुद्दा नहीं, बस BJP को कोस रहे

कांग्रेस के पास चुनावी मुद्दा नहीं, बस BJP को कोस रहे

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस नेताओं पर हमला करते हुए आज कहा कि उनके पास कोई चुनावी मुद्दा नहीं, इसलिए वह भाजपा सरकार को कोसने में लगे हुए हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंदसौर जिले के सुवासरा विधानसभा के चंदवास और धार जिले के बदनावर विधानसभा के भैसोला में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इसके अलावा खंडवा जिले के मांधाता विधानसभा के सुलगांव और बुरहानपुर जिले के नेपानगर विधानसभा के दाभिया में सभा को संबोधित किया। इस मौके पर वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित अन्य नेता मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में कई वचन दिए। उन्होंने वचन-पत्र बनाया और उस वचन-पत्र में किसानों की 2 लाख रूपए की कर्जमाफी, युवाओं को 4 हजार रूपए बेरोजगारी भत्ता, बेटियों को कन्यादान के लिए 51 हजार रूपए, बुजुर्गों-निःशक्तजनों को पेंशन सहित कई वचन दे दिए। लेकिन उन्होंने इन वचनों को तो पूरा नहीं किया और भूल गए।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस के कर्जमाफी के वादे के चलते किसान और ज्यादा कर्जदार हो गए हैं। किसानों ने कर्जमाफी के चक्कर में बैंकों का कर्जा नहीं भरा और अब उन्हें 18 प्रतिशत ब्याज देना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों चिंता मत करना उनके सिर पर रखी ब्याज की पोटरी को भाजपा सरकार भरेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पाय कोई चुनावी मुद्दा नहीं है, इसलिए वह अनाप-शनाप बक रहे हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जब उन्होंने मुख्यमंत्री का पद संभाला तो प्रदेश में कोरोना की दस्तक हो चुकी थी। मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद वल्लभ भवन पहुंचा तो पता चला कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने कोरोना वायरस से बचाव को लेकर कोई बैठक नहीं की। हां उन्होंने आईफा अवार्ड के लिए कई बैठकें लीं, लेकिन कोरोना जैसी महामारी को लेकर उनकी सरकार ने कोई चिंता नहीं की।

उन्होंने कहा कि हमने कोरोना से बचाव के लिए पीपीटी किट की व्यवस्थाएं की, कोरोना सेंटर बनवाए। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में प्रदेश के गरीबों को सहकारी समितियों के माध्यम से निःशुल्क राशन बंटवाया तो अब कांग्रेस के नेता कह रहे है कि भाजपा सरकार ने राशन घोटाला कर दिया।

राज्यसभा सांसद एवं वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि वर्ष 2018 के चुनाव में वे और श्री चौहान आमने-सामने थे, लेकिन हमारा लक्ष्य एक ही था। लक्ष्य था विकास का, प्रगति का, किसानों, नौजवानों और महिलाओं के भविष्य का। आज हम साथ हैं और हम मिलकर दो नहीं, बल्कि एक और एक ग्यारह हो गए हैं। उन्होंने कांग्रेस पर कर्जमाफी समेत कई अन्य मुद्दों पर जमकर निशाना साधा।

इस मौके पर वरिष्ठ नेता विक्रम वर्मा, कृष्णमुरारी मोघे, सांसद सुधीर गुप्ता, सांसद नंदकुमार सिंह चौहान, सांसद गुमान सिंह डामौर, मंत्री जगदीश देवड़ा, मंत्री कमल पटेल, मंत्री व भाजपा प्रत्याशी राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव, मंत्री व प्रत्याशी हरदीप सिंह डंग, प्रदेश महामंत्री कविता पाटीदार, विधायक मीना वर्मा, नानालाल अटोलिया, बंशीलाल गुर्जर, विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया सहित पदाधिकारी, कार्यकर्ता मौजूद रहे।

वार्ता

epmty
epmty
Top