Top

अफगानिस्तान से सिखों का पलायन

अफगानिस्तान से सिखों का पलायन

काबुल। अफगानिस्तान ने अफगानी सिखों और हिंदुओं के पलायन पर गंभीर चिंता जताई है और उन्हें अफगानिस्तान का जिगरी दोस्त और जान से प्यारा बताया है। अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के प्रवक्ता सादिक सिद्दीकी ने कहा कि आज हर अफगानी पीड़ित है। उन्होंने देश छोड़ रहे हिंदुओं और सिखों को सोल मेट बताया और उम्मीद जताई कि एक न दिन वे वापस लौटेंगे।

सादिक सिद्दीकी ने कहा कि भारत और अफगानिस्तान को पाकिस्तान के जाल में नहीं फंसना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों को उनके धर्म और आस्था के आधार पर बांटना पाकिस्तान का काम है। अफगानिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से आई एक रिपोर्ट का समर्थन करते हुए कहा कि इस क्षेत्र के मुख्य आतंकी संगठनों के बड़े चेहरे पाकिस्तान में ही पाए जाते हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ऐसे आतंकी संगठनों की सुरक्षित पनाहगाह बन गया है। उन्होंने कहा कि मैं उन्हें अल्पसंख्यक नहीं कहूंगा, वे हमारे लिए जान से प्यारे हैं। अफगानिस्तान में सिखों और हिंदुओं के लिए अपार श्रद्धा है। अफगानिस्तान में उन्हें सुरक्षित और स्वस्थ रखने के लिए हम हर मुमकिन कोशिश करते हैं। सच पूछा जाए तो इस घटनाक्रम से हम सब दुखी हैं।

epmty
epmty
Top