Top

कीटनाशक खाने से हुई है सोहजनी तगान धनप्रकाश की मृत्यु: जिलाधिकारी

मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय ने कहा कि समाचार पत्रों में प्रकाशित एक खबर, जिसमें ग्राम सोहजनी तगान तहसील खतौली के निवासी धनप्रकाश पुत्र काला उर्फ काले द्वारा ऋण के दबाव में जहर खाकर आत्महत्या कर ली गयी है। इस संबंध में उप जिलाधिकारी खतौली द्वारा अपनी जांच आख्या में अवगत कराया गया है कि धनप्रकाश पुत्र काले उम्र 77 वर्ष निवासी सोहजनी तगान में 15 जून को गन्ने में डालने वाली कीटनाशक दवा को धोखे से दवाई समझ कर पी ली थी। धनप्रकाश नजले व सांस की बीमारी से पीडित थे। 20 जून को मृत्यु की सूचना प्राप्त हुई। मृतक के पुत्र राजीव द्वारा बयान में अंकित कराया गया है कि उनकी किसी से रंजिश नही थी तथा उनके ऊपर किसी प्रकार का दबाव नही था। मृतक के नाम 2.527 है0 कृषि भूमि थी। मृतक के चार पुत्र व 02 पुत्री है। सभी विवाहित है।

उप जिलाधिकारी खतौली द्वारा यह भी अवगत कराया है कि मृतक पर 15,77000 ऋण खतौनी में अंकित है। लगभग डेढ साल पहले तकादे की कार्यवाही की गयी थी। उसके बाद तहसील स्तर पर कोई उत्पीडन कार्यवाही वर्तमान तक नही की गयी है। मृतक का बैंक खाता अप्रैल 2018 में कुर्क किया गया था तथा मृतक के द्वारा दूसरा खाता खुलवाकर गन्ने का भुगतान प्राप्त कर लिया गया था। इनके परिजनों एवं पुत्रों ने बताया कि मृतक की उम्र लगभग 77 वर्ष थी। शारीरिक रूप से अत्यन्त दुर्बल थे एवं बीमार चल रहे थे तथा दवाई के स्थान पर धोखे से कीटनाशक दवाई पी ली थी। प्रथमदृष्टया धनप्रकाश की मृत्यु जहरीली कीटनाशक खाने से हुई है।

epmty
epmty
Top