Top

दिल्ली में कोविड निगेटिव रिपोर्ट के बिना- 'नो एन्ट्री'

दिल्ली में कोविड निगेटिव रिपोर्ट के बिना- नो एन्ट्री

नई दिल्ली। भारत की राजधानी दिल्ली में आना अब आसान नहीं रह गया है। दिल्ली में एन्ट्री के लिए अब एक डाॅक्यूमेंट सबसे अधिक जरूरी है, उसका नाम है कोरोना निगेटिव रिपोर्ट का प्रमाण पत्र। जिसके पास उक्त प्रमाण पत्र नहीं होगा, उसे दिल्ली में एन्ट्री की इजाजत नहीं दी जायेगी। हां, दिल्ली सरकार ने इस मामले में यूपी और हरियाणा के नागरिकों को अवश्य ही छूट प्रदान की है।

कोराना की संक्रामक महामारी ने भारत ही नहीं, पूरे विश्व को झकझोर कर रख दिया है। कोरोना के कारण न जाने कितने अपने हमेशा-हमेशा के लिए बिछड़ गये। न जाने कितने लोगों को फिर से स्वस्थ होने में कितनी मशक्कत करनी पड़ी। हालांकि दिल्ली में सरकार की जागरूकता के चलते कोरोना महामारी अपना ज्यादा असर नहीं दिखा पाई थी। अब कोरोना फिर से अपने पांव पसार रहा है। इसी के चलते दिल्ली सरकार पूरी तरह से सतर्क है।

सरकार ने इस संबंध में निर्देश जारी किये हैं कि देश के किसी भी हिस्से से दिल्ली में प्रवेश पाने के लिए उसके पास कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट होनी चाहिए। यदि उसके पास कोरोना निगेटिव रिपोर्ट नहीं है, तो उसे दिल्ली में प्रवेश नहीं दिया जायेगा। गौरतलब है कि विगत एक सप्ताह में कोरोना के कुल मामलों में से 86 प्रतिशत केस महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़ राज्यों में आये हैं। इन राज्यों के लोगों के ऊपर खासी नजर रखी जा रही है। इसके अलावा भी सभी राज्यों से आने वाले लोगों के पास कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट होना अनिवार्य कर दिया गया है। केरल और महाराष्ट्र में कोरोना के नए स्ट्रेन आने से हड़कंप मचा हुआ है।

इसे देखते हुए दिल्ली सरकार ने एहतियाती कदम उठाये हैं और कोरोना निगेटिव रिपोर्ट को अनिवार्य कर दिया गया है। हां, इतना जरूर है कि उत्तर प्रदेश और हरियाणा के नागरिकों को छूट प्रदान की गई है। यूपी और हरियाणा के लोगों के पास अगर कोरोना नेगेटिव प्रमाण नहीं भी है, तो उन्हें दिल्ली में प्रवेश करने में कोई परेशानी नहीं होगी।

epmty
epmty
Top