Top

विरासत प्रकरणों के समाधान के लिये हुआ हेल्पलाइन नंबर जारी

विरासत प्रकरणों के समाधान के लिये हुआ हेल्पलाइन नंबर जारी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा समस्त मंडलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि जनपद में दर्ज व निस्तारित होने वाले वरासत प्रकरणों का नियमित अनुश्रवण करें तथा अब तक ऑनलाइन दर्ज वरासत आवेदन पत्रों का शीघ्र निस्तारण करें। साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि कोई भी वरासत प्रकरण किसी भी स्तर पर समय सीमा के उपरान्त लम्बित न रहे। वरासत के प्रकरणों में समय से कार्यवाही की जाए जिससें कोई विधिक उत्तराधिकारी अपने उत्तराधिकार से वंचित न रहें।

वरासत अभियान के अन्तर्गत अब तक 4,25,334 आवेदन पत्र ऑनलाइन दर्ज किये गये है। इनमें से 3,53,542 आवेदन पत्र वरासत अभियान के दौरान निस्तारित किया गये हैं। शेष आवेदन पत्रों को शीघ्र निस्तारित करने के निर्देश दिये गये है।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर वरासत अभियान 15 दिसम्बर, 2020 से 15 फरवरी, 2021 तक चलाया जा रहा है। इस अभियान के अन्तर्गत बिना किसी विवाद के उत्तराधिकार को खतौनियों में दर्ज करने के लिए सभी ग्राम सभाओं में वरासत अभियान चलाया जा रहा है। वरासत अभियान के तहत वरासत दर्ज कराने के लिए ऑनलाइन तथा ऑफलाइन आवेदन करने की सुविधा है। इस अभियान के अन्तर्गत किसी भी प्रकार की समस्या के समाधान के लिए हेल्पलाइन नबंर 0522-2620477 जारी किया गया है।

epmty
epmty
Top