Top

विद्युत तार हटवाने सहित मुआवजा दिलाने की मांग

विद्युत तार हटवाने सहित मुआवजा दिलाने की मांग

मुजफ्फरनगर। विद्युत विभाग की लापरवाही के कारण 17 वर्षीय नाबालिक किशोर अपने दो पैर और एक हाथ करंट लगने के कारण तुड़वा बैठा, पर विद्युत विभाग आंख अब भी नहीं खुली हैं और अभी तक भी वह लाइन नहीं बदली गयी हैं, जिसके करंट लगने की वजह से युवक अपने हाथ पैर तुड़वा बैठा।

मामला किदवई नगर का है, जहां पर शमीम पुत्र अनीश के घर के ऊपर से 11 हजार की हाईटेंशन लाइन जा रही है। शमीम ने कई बार इस लाइन को अपने घर के ऊपर की बजाए थोड़ा इधर-उधर करने के लिए संबंधित अधिकारियों को प्रार्थना पत्र दे चुका है, मगर विद्युत विभाग ने कोई कार्यवाही नहीं की ।

शमीम ने विद्युत विभाग के अधिकारी को पहले ही जता दिया था कि 11 हजार की लाइन के कारण उसके परिवार को खतरा है और उसके परिवार के साथ कभी भी कोई हादसा हो सकता है, मगर फिर भी विद्युत विभाग की तरफ से कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया। अंततः वही हुआ, जिसका खतरा था। 10 जून को शमीम का 17 वर्षीय पुत्र अदनान 11 लाइन की चपेट में आ गया। करंट लगने की वजह से वह छत से नीचे गिर गया, जिसके कारण उसके दोनों पैर और एक हाथ टूट गया। अदनान का अभी भी जिला चिकित्सालय मुजफ्फरनगर में इलाज चल रहा है।

शमीम ने बताया कि इससे पूर्व वह जेई तेजपाल से मिल चुका है, मगर उसने तारों को हटवाने की ऐवज में 20000 की रिश्वत मांगी थी। उसने चेतावनी भी दी है कि यदि रूपये नहीं दिये तो रिपोर्ट गलत बनाकर भेज दूंगा।

जिला अधिकारी को सम्बोधित अपने प्रार्थना पत्र में शमीम ने जल्द से जल्द अपनी छत से 11 हजार लाइन अपने मकान के ऊपर से हटाने के साथ ही विद्युत विभाग से मुआवजा दिलाने की मांग की है।

epmty
epmty
Top