Top

गोवर्धन के लिए रू0 3973.70 लाख तथा गोरखपुर-देवीपाटन- डुमरियागंज स्पिरीचुअल सर्किट के लिए रू0 2115.66 लाख की समेकित पर्यटन विकास योजना स्वीकृत

लखनऊ।प्रदेश सरकार द्वारा जनपद मथुरा में गोवर्धन तथा गोरखपुर-देवीपाटन- डुमरियागंज स्पिरीचुअल सर्किट के समेकित पर्यटन विकास के लिए प्रेषित योजनाओं को पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार ने स्वीकृति दे दी है।

यह जानकारी देते हुए अपर मुख्य सचिव एवं महानिदेशक पर्यटन अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि गोवर्धन क्षेत्र के समेकित पर्यटन विकास के लिए प्रासाद स्कीम के अंतर्गत कुल 3973.70 लाख की योजना जबकि गोरखपुर-देवीपाटन-डुमरियागंज स्पिरीचुअल सर्किट के समेकित पर्यटन विकास के लिए स्वदेश दर्शन स्कीम के अंतर्गत कुल रू0 2115.66 लाख की योजना स्वीकृत की गई है।

अपर मुख्य सचिव ने बताया है कि गोवर्धन में स्वीकृत कार्यों में गोवर्धन बस स्टेशन पर सुविधाएं, गोवर्धन परिक्रमा मार्ग पर फर्नीचर, वाई-फाई तथा अन्य सौन्दर्यीकरण, चंद्रसरोवर, कुसुमसरोवर तथा मानसी गंगा के घाटों पर सौन्दर्यीकरण एवं सुविधाओं में वृद्धि का कार्य किया जायेगा।

स्पिरीचुअल सर्किट में योजना के तहत कराए जाने वाले समेकित विकास कार्यों की जानकारी देते हुए अपर मुख्य सचिव ने बताया कि गोरखपुर मंदिर में मेला ग्राउण्ड में इण्टरलाकिंग टाईल्स, सर्फेस कार पार्किंग, सुलभ प्रसाधन, वाॅटर पम्प, बेन्चेस, डस्टबिन, एल0ई0डी0 लाईट, वाॅटर, ए0टी0एम0, सोलर ट्यूबवेल एवं हाईमास्ट लाईट आदि कार्य किए जायेंगे। पूरे मन्दिर परिसर को 6 जोन में बांटकर सौन्दर्यीकरण का कार्य होगा और मूलभूत कार्यों के साथ-साथ पर्यटकों के लिए अधिक सुविधा-सम्पन्न एवं आकर्षक बनाया जायेगा। अपर मुख्य सचिव ने बताया कि जनपद बलरामपुर में देवीपाटन मंदिर तथा जनपद डुमरियागंज के वटवासिनी मन्दिर में मूलभूत पर्यटक अवस्थापना सुविधाओं में विस्तार तथा सौन्दर्यीकरण का कार्य किया जायेगा। भारत सरकार के सहयोग द्वारा इन पर्यटन स्थलों के विकास से यहाॅ आने वाले पर्यटकों और श्रद्धालुओं को अच्छी सुविधाओं मिल सकेंगी। उन्होंने कहा पर्यटन का विकास स्थानीय लोगों की आर्थिक उन्नति और रोजगार सृजन में भी योगदान करेगा, अवसरों की वृद्धि करेगा।

epmty
epmty
Top