Top

जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद आर्मी चीफ पहली बार श्रीनगर दौरे पर

जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद आर्मी चीफ पहली बार श्रीनगर दौरे पर

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद थल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत पहली बार वहां जा रहे हैं। इस दौरान वे कश्मीर घाटी में हालात से निपटने के लिए सुरक्षा स्थिति और सुरक्षाबलों की तैयारियों की समीक्षा करेंगे।


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी अनुच्छेद 370 खत्म होने के बाद बीते दिवस पहली बार लद्दाख के लेह में किसान, जवान विज्ञान मेले के उद्घाटन अवसर पर पहुंचे थे। यहां उन्होंने पाकिस्तान की धमकियों पर करारा जवाब देते हुए कहा था कि पीओके ही नहीं गिलित-बल्टिस्तान भी भारत का हिस्सा है। उन्होंने पाकिस्तान से पूछा था कि कश्मीर पाकिस्तान का हिस्सा था ही कब, जो उसको लेकर रोते रहते हो? भारत पहले ही स्पष्ट कर चुका है कि अब पाकिस्तान से बात होगी तो पीओके को लेकर होगी।



ज्ञात हो कि पाकिस्तान लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है और युद्ध की धमकी दे रहा है, सीमा पर युद्ध जैसे हालात बने हुए हैं। भारतीय सेनाएं भी पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दे रही हैं। इस लिहाज से उनका कश्मीर दौरा बेहद अहम माना जा रहा है।
कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने से बौखालाया पाकिस्तान लगातार भारत के खिलाफ साजिश रचने की कोशिश में है। भारतीय खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट जारी किया है कि पाकिस्तानी सेना के कमांडो गुजरात के समुद्र तटीय इलाकों के रास्ते भारत में घुसपैठ करने का प्रयास कर रहे हैं। इससे पहले खुफिया एजेंसियों ने घाटी में घुसपैठ की फिराक में बैठे आतंकियों को लेकर अलर्ट जारी किया था। सीजफायर उल्लंघन के बीच आतंकियों को घुसपैठ से रोकना सेना के लिए बड़ी चुनौती है।


जम्मू-कश्मीर में संचार सेवाएं बहाल होने और स्थानीय नेताओं के आजाद होते ही घाटी की शांति खतरे में पड़ने की आशंका है। इसे लेकर भी सेनाध्यक्ष तैयारियों और मौजूदा हालातों का जायजा लेंगे।

epmty
epmty
Top