Top

दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री बने नरेंद्र मोदी , जानिये उनकी कैबिनेट में है कौन मंत्री

दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री बने नरेंद्र मोदी , जानिये उनकी कैबिनेट में है कौन मंत्री

नई दिल्ली । नरेंद्र मोदी ने दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली उन्होंने अपने शपथ ग्रहण में किसी के साथ भेदभाव नहीं करने की भी शपथ ली नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा ने पूर्ण बहुमत पाकर लगातार दूसरी बार केंद्र में सरकार बनाई है इससे पहले नरेंद्र मोदी 4 बार गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में भी काम कर चुके हैं । नरेंद्र मोदी ने दूसरी बार पूर्ण बहुमत पाकर किसी भी गैर सरकारी कांग्रेसी सरकार का रिकॉर्ड तोड़ा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ के बाद दूसरे नंबर पर लखनऊ से सांसद राजनाथ सिंह ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली । नरेंद्र मोदी की कैबिनेट के दूसरे मंत्री के रूप में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शपथ ली अमित शाह गुजरात में गृह राज्य मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं तथा उन्हें भाजपा का चाणक्य भी कहा जाता है। अमित शाह ने पहली बार गुजरात की गांधीनगर लोकसभा सीट से लालकृष्ण आडवाणी की जगह चुनाव लड़ा और भारी मतों से जीत दर्ज की । अमित शाह 2014 के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के प्रभारी चुनाव प्रभारी थे तथा उन्होंने अपने नेतृत्व में 73 लोकसभा सीटें भाजपा की झोली में डाल दी थी। नितिन गडकरी ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में सड़क परिवहन मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं तथा नागपुर से लगातार दूसरी बार चुनाव जीते हैं नितिन गडकरी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नजदीकी माने जाते हैं तथा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में काम कर चुके हैं । नितिन गडकरी के बाद सदानंद गौड़ा ने मंत्री के रूप में शपथ ग्रहण ली सदानंद गौड़ा ने अंग्रेजी में शपथ ली जबकि इससे पहले नरेंद्र मोदी समेत तीन मंत्रियों ने हिंदी में शपथ ग्रहण किया। सदानंद गौड़ा बीते मोदी सरकार के कार्यकाल में मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं । डीवी सदानंद गौड़ा बेंगलुरु उत्तर से लोकसभा के सदस्य के रूप में चुने गए हैं तथा 2011 से 2012 तक कर्नाटक के मुख्यमंत्री भी रहे हैं सदानंद गौड़ा ने इस बार चौथी बार लोकसभा का चुनाव जीता है। इसके बाद पिछली सरकार में रक्षा मंत्री के रूप में काम कर चुकी निर्मला सीतारमण को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है निर्मला सीतारमण राज्यसभा की सदस्य सदस्य है तथा भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता के रूप में काम कर चुकी हैं। निर्मला सीतारमण रक्षा मंत्री से पूर्व वाणिज्य एवं उद्योग विभाग की मंत्री रह चुकी है जून 2014 में भाजपा ने उन्हें राज्यसभा में भेजा था निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार में लगातार दूसरी बार मंत्री पद के रूप में शपथ ली है निर्मला सीतारमण को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 3 सितंबर 2017 को देश की रक्षा मंत्री बनाया था। निर्मला सीतारमण के बाद लोजपा के अध्यक्ष रामविलास पासवान ने भी मंत्री पद की शपथ ली रामविलास पासवान हाजीपुर बिहार की लोकसभा सीट से चुनाव लड़ते रहे हैं लेकिन इस बार उन्होंने चुनाव लड़ने से मना कर दिया था तथा अपनी लोकसभा सीट पर अपने पुत्र चिराग पासवान को चुनाव लड़ाया। चिराग पासवान ने अपने पिता की परंपरागत सीट पर चुनाव जीत लिया । रामविलास पासवान वर्तमान में किसी सदन के सदस्य नहीं है लेकिन उनको राज्यसभा में भेजा जा सकता है रामविलास पासवान कई सरकारों में कैबिनेट मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं। रामविलास पासवान के बाद नरेंद्र सिंह तोमर को नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री के लिए शपथ दिलाई गई नरेंद्र सिंह तोमर मुरैना मध्य प्रदेश से जीत कर आए हैं नरेंद्र सिंह तोमर मोदी सरकार के पार्ट वन में मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं नरेंद्र सिंह तोमर 2014 में ग्वालियर की लोकसभा सीट से चुनाव जीतकर आए थे इस बार पार्टी ने उनकी लोकसभा सीट बदल दी थी लेकिन नरेंद्र सिंह तोमर ने फिर भी जीत दर्ज की नरेंद्र सिंह तोमर 1998 से 2008 तक लगातार मध्यप्रदेश में विधायक के रूप में काम कर चुके हैं । इसके बाद रविशंकर प्रसाद को मंत्री की शपथ दिलाई गई रविशंकर प्रसाद पहली बार पटना साहिब बिहार की लोकसभा सीट से चुनाव जीतकर सदन में पहुंचे हैं उन्होंने फिल्म अभिनेता एवं भाजपा के सांसद रहे शत्रुघन सिन्हा को हराया है रविशंकर प्रसाद अभी तक राज्यसभा के सांसद रहे रविशंकर प्रसाद नरेंद्र मोदी सरकार के पार्ट वन में भी मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं उनके पास कानून मंत्री का प्रभार था । इसके बाद मोदी सरकार के मंत्री के रूप में हरसिमरत कौर जोकि अकाली दल की नेता है तथा बठिंडा पंजाब से 1999 से लगातार चुनाव जीत रही है हरसिमरत कौर पिछली सरकार में भी खाद्य प्रसंस्करण मंत्री के रूप में काम कर चुकी है हरसिमरत कौर प्रकाश सिंह बादल परिवार की बहू है।नरेंद्र मोदी सरकार के दसवें मंत्री के रूप में थावर सिंह गहलोत ने शपथ ली थावर सिंह गहलोत बीजेपी का बडा दलित चेहरा है 71 साल के थावरचंद गहलोत पांच बार लोकसभा के सांसद रह चुके हैं पिछली सरकार में भी मंत्री थे इस बार थावरचंद गहलोत राज सभा के सदस्य हैं। इसके बाद विदेश सेवा के अफसर तथा पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर ने मोदी सरकार के मंत्री के रूप में शपथ ली जयशंकर किसी सदन के सदस्य नहीं है तथा 2015 से 2018 तक विदेश सचिव के रूप में काम कर रहे थे। 1977 की विदेश सेवा के अफसर एस जयशंकर अमेरिका एवं चीन में भारत के राजदूत रह चुके हैं जयशंकर चीन में साढे 4 साल तक राजदूत के रूप में काम कर चुके हैं । इसके बाद उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मंत्री के रूप में शपथ ली रमेश पोखरियाल निशंक उत्तराखंड की हरिद्वार लोकसभा सीट से दूसरी बार लोकसभा का चुनाव जीत कर आए हैं पत्रकारिता के साथ-साथ राजनीति में आए रमेश पोखरियाल निशंक 1991 में पहली बार उत्तर प्रदेश की विधानसभा में जीतकर पहुंचे थे तथा 1997 में उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं । इसके बाद खूंटी झारखंड से लोकसभा का चुनाव जीतकर आए अर्जुन मुंडा को मंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई 1995 में पहली बार झारखंड विधानसभा में जीतकर पहुंचे अर्जुन मुंडा ने अपनी राजनीति की शुरुआत झारखंड मुक्ति मोर्चा से की थी बाद में वे भाजपा में शामिल हो गए अर्जुन मुंडा झारखंड के मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं तथा उनको पार्टी का बढ़ा आदिवासी चेहरा माना जाता है

इसके बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को अमेठी में हराकर लोकसभा पहुंची स्मृति ईरानी ने मंत्री के रूप में शपथ ली स्मृति ईरानी दो बार राज्यसभा की सांसद रह चुकी हैं तथा पहली बार लोकसभा का चुनाव जीती है नरेंद्र मोदी सरकार में पहले मंत्री के रूप में काम कर चुकी स्मृति ईरानी ने 2014 में भी अमेठी लोकसभा सीट से राहुल गांधी के सामने चुनाव लड़ा था लेकिन तब उन्हें हार का सामना करना पड़ा था लेकिन इस बार स्मृति ईरानी ने राहुल की अमेठी का किला ध्वस्त कर लोकसभा में प्रवेश किया स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को 55000 से अधिक वोटों से हराया है ।इसके बाद डॉक्टर हर्षवर्धन ने मंत्री के रूप में शपथ ली डॉक्टर हर्षवर्धन दिल्ली की चांदनी चौक लोकसभा सीट से चुनाव जीते हैं 1992 में पहली बार विधायक बने डॉ हर्षवर्धन केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री के रूप में भी काम कर चुके हैं इन्हें दिल्ली में भाजपा का बड़ा चेहरा माना जाता है । हर्षवर्धन के बाद अगले मंत्री के रूप में प्रकाश जावेडकर ने शपथ ली प्रकाश जावेडकर महाराष्ट्र से राज्यसभा के सदस्य हैं तथा 1980 से संघ से जुड़े हुए हैं नरेंद्र मोदी सरकार के पार्ट वन में भी वह कैबिनेट मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं तथा राजस्थान राज्य के प्रभारी के रूप में भी काम कर चुके हैं । इसके बाद पीयूष गोयल ने मंत्री के रूप में शपथ ली पिछले 34 साल से राजनीति में सक्रिय पीयूष गोयल बीजेपी के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष भी रह चुके हैं तथा राज्यसभा से सांसद है पिछली सरकार में पीयूष गोयल रेलवे विभाग के कैबिनेट मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं पीयूष गोयल पिछली सरकार में भी जब जब वित्त मंत्री अरुण जेटली के स्वास्थ्य में गिरावट आई तब तब इन्हें वित्त मंत्री के रूप में काम करने दिया गया । इसके बाद धर्मेंद्र प्रधान ने मंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की धर्मेंद्र प्रधान भी राज्यसभा के सदस्य हैं तथा पिछली सरकार में पेट्रोलियम मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं उड़ीसा राज्य से आने वाले धर्मेंद्र प्रधान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उज्जवला योजना को मूर्त रूप देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है । इसके बाद मुख्तार अब्बास नकवी ने नरेंद्र मोदी के सहयोगी मंत्री के रूप में शपथ ली मुख्तार अब्बास नकवी बीजेपी के बड़े मुस्लिम चेहरे के रूप में जाने जाते हैं तथा उत्तर प्रदेश की रामपुर लोकसभा सीट से लोकसभा का चुनाव जीत चुके हैं वर्तमान में राज्य सभा के सदस्य मुख्तार अब्बास नकवी पिछली सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं मुख्तार अब्बास नकवी पूर्व की अटल बिहारी वाजपेई सरकार में भी मंत्री की भूमिका निभा चुके हैं । इसके बाद २० वे कैबिनेट मंत्री के रूप में प्रह्लाद जोशी ने शपथ ली धारवाड़ कर्नाटक प्रदेश से सांसद बनकर आए हैं प्रह्लाद जोशी कर्नाटक में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के रूप में काम कर चुके हैं तथा कई बार से लोकसभा का चुनाव जीत रहे हैं प्रह्लाद जोशी अब तक शपथ लेने वाले मंत्रियों में दूसरे ऐसे मंत्री हैं जिन्होंने अंग्रेजी में शपथ ग्रहण की । इसके बाद यूपी भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे को मंत्री के पद के रूप में शपथ दिलाई गई उत्तर प्रदेश की चंदौली से लोकसभा के सदस्य डॉ महेंद्र नाथ पांडे 1991 में पहली बार उत्तर प्रदेश की विधानसभा में जीतकर पहुंचे थे 2014 में जब यह लोकसंभा का चुनाव जीतकर पहुंचे तो नरेंद्र मोदी सरकार में इन को मंत्री बनाया गया था लेकिन बाद में इन्हें मंत्रिमंडल से हटा कर भाजपा में उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था इस बार बीजेपी ने उत्तर प्रदेश में गठबंधन को मात देते हुए लोकसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन किया है । इसके बाद शिवसेना कोटे के मंत्री के रूप में अरविंद सावंत में शपथ ग्रहण की अरविंद गणपत सावंत ने महाराष्ट्र में कांग्रेस के बड़े नेता मिलिंद देवड़ा को हराकर चुनाव जीता है महाराष्ट्र में से शिवसेना से लगातार दूसरी बार जीत कर आए अरविंद सावंत 1996 से 2010 तक एमएलसी के रूप में भी काम कर चुके हैं । 23 वे मंत्री के रूप में गिरिराज सिंह ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली पिछली सरकार में भी केंद्रीय मंत्री के रूप में काम कर चुके गिरिराज सिंह दूसरी बार मोदी सरकार में मंत्री के रूप में शपथ ली है गिरिराज सिंह ने बेगूसराय बिहार लोकसभा सीट पर छात्र नेता कन्हैया कुमार को हराकर चुनाव जीता है गिरिराज सिंह बिहार के भूमिहार नेता के रूप में जाने जाते हैं तथा पहली बार 2014 में लोकसभा का चुनाव जीते थे गिरिराज सिंह बिहार राज्य में भी मंत्री के रूप में काम कर चुके हैं । इसके बाद राजस्थान के सांसद गजेंद्र गजेंद्र सिंह शेखावत जोकि जोधपुर लोकसभा सीट से राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे को हराकर चुनाव जीते हैं गजेंद्र शेखावत जोधपुर यूनिवर्सिटी संघ के अध्यक्ष भी रह चुके हैं तथा मोदी सरकार के पार्ट वन में भी मंत्री रह चुके हैं

epmty
epmty
Top