Top

खादी को बढ़ावा देने के लिए इस वर्ष 1000 सोलर चर्खों के वितरण का लक्ष्य

खादी को बढ़ावा देने के लिए इस वर्ष 1000 सोलर चर्खों के वितरण का लक्ष्य

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने खादी को बढ़ावा देने एवं कत्तिनों की आय में वृद्धि के लिए इस वर्ष 1000 सोलर चर्खों के वितरण का लक्ष्य रखा है, जबकि पिछले साल 490 चर्खों का वितरण किया गया था। साथ ही महिला उद्यमियेां को कच्चा माल उपलब्ध कराने और तैयार सूत खरीदने की भी प्रभावी व्यवस्था बनाई गई है।

यह जानकारी प्रमुख सचिव, खादी एवं ग्रामोद्योग डा0 नवनीत सहगल ने दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में खादी के उत्पादन को बढ़ाने के लिए राज्य सरकार द्वारा सोलर खादी को भी खादी की श्रेणी में रखा गया है। उत्तर प्रदेश सोलर चर्खें से निर्मित वस्त्र को खादी की मान्यता देने वाला देश का पहला राज्य बना है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में गुणवत्तापूर्ण खादी की उत्पादकता तथा कत्तिनों की आय में वृद्धि के उद्देश्य से प्रदेश में सौर ऊर्जा द्वारा संचालित 12 तकले के चर्खों का ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को प्रशिक्षण देकर रोजगार प्रदान किये जाने का कार्य किया जा रहा है।

डा0 सहगल ने बताया कि योजना के सफल संचालन हेतु उ0प्र0 खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड, मेसर्स हरित खादी संस्थान एवं नाबार्ड के मध्य अनुबन्ध भी किया गया। हरित खादी संस्थान द्वारा कत्तिनों सोलर चर्खा संचालन हेतु 03 माह का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा, जिसका व्यय नाबार्ड वहन करेगा। हरित खादी संस्थान द्वारा प्रशिक्षण के उपरान्त महिला उद्यमियों को कच्चा माल उपलब्ध कराते हुए तैयार माल को क्रय करने की व्यवस्था सुनिश्चित की गयी है।

epmty
epmty
Top