Top

वोटर पुनरीक्षण कार्य में लापरवाही करने वाले दस BLO होंगे सस्पेंड

वोटर पुनरीक्षण कार्य में लापरवाही करने वाले  दस BLO होंगे सस्पेंड

औरैया। उत्तर प्रदेश में औरैया जिले की बिधूना तहसील के उपजिलाधिकारी ने त्रिस्तरिय पंचायत निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण कार्य को अभी तक शुरू न करने वाले 10 लापरवाह बीएलओ के विरुद्ध सम्बन्धित विभाग के जिला स्तरीय अधिकारियों को पत्र लिख निलंबित ‌करने के साथ रिपोर्ट दर्ज कराये जाने के लिये कहा है।

आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को बताया कि आयोग के निर्देशानुसार एक अक्टूबर से 12 नवम्बर तक मतदाता सूची के पुनरीक्षण अभियान के तहत बीएलओ को घर-घर जाकर मतदाताओं के नाम हटाने जोडने का कार्य किया जाना है। उक्त अभियान की समीक्षा के दौरान बिधूना के उपजिलाधिकारी राशिद अली ने पाया कि प्राथमिक विद्यालय रठगांव में शिक्षा मित्र अनिल कुमार, ब्लॉक संसाधन केंद्र सहार में रोजगार सेवक घनश्याम सिंह, पूर्व माध्यमिक विद्यालय सहार में शिक्षामित्र बाबूलाल, प्राथमिक विद्यालय बादशाहपुर छौंक में रोजगार सेवक हरि सिंह, प्राथमिक विद्यालय अघार में नलकूप चालक प्रमोद कुमार, प्राथमिक विद्यालय मुडरिया में रोजगार सेवक प्रदीप कुमार, उच्च प्राथमिक विद्यालय कनमऊ में सहायक अध्यापक राहुल गुप्ता, प्राथमिक विद्यालय सिखू में सहायक अध्यापक यशवीर सिंह, तोमर रघुनाथ सिंह इंटर कॉलेज अरियारी में शिक्षक अजय कुमार एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय लहरापुर टिडवा में शिक्षक वीरपाल के‌ द्वारा अभी तक पुनरीक्षण कार्य शुरु नहीं किया गया है।

इस पर उन्होंने सम्बन्धित विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियों को लापरवाह बीएलओ के विरुद्ध लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम के तहत कर्त्तव्य का पालन न करने के आरोप में ‌बेतनभोगी कर्मचारियों को निलंबित करने जबकि मानदेय कर्मचारियों की सेवा समाप्त करने के साथ रिपोर्ट दर्ज कराये जाने को कहा है।

उपजिलाधिकारी इससे पूर्व भी 15 बीएलओ के विरुद्ध कार्रवाई हेतु संबंधित विभाग के अधिकारियों को लिख चुके हैं।

उपजिलाधिकारी ने कहा कि एक जनवरी 2020 को 18 वर्ष पूर्ण कर चुके नव मतदाताओं को मतदाता सूची में पंजीकृत करने के साथ ही मौत हो चुके लोगों या शादी हो चुकी लडकियों के नाम मतदाता सूची से प्रथक किए जाने हैं। उन्होंने कहा कि उक्त बीएलओ के द्वारा अभी तक पुनरीक्षण से सम्बन्धित सामग्री भी प्राप्त नहीं की गयी है।

epmty
epmty
Top