Top

एचडीएफसी के नए सीईओ जगदीशन

एचडीएफसी के नए सीईओ जगदीशन

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ने निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) और प्रबंध निदेशक पद के लिए शशिधर जगदीशन के नाम को मंजूरी दे दी है। जगदीशन आदित्य पुरी की जगह लेंगे। जगदीशन की नियुक्ति तीन साल के लिए की गई है और वे 27 अक्टूबर 2020 से पदभार संभालेंगे। जगदीशन फिलहाल प्राइवेट सेक्टर के सबसे बड़े बैंक में चेंज एजेंट और फाइनेंस विभाग के प्रमुख हैं। वह 1996 में एचडीएफसी बैंक से जुड़े थे। काफी समय से इस बात को लेकर चर्चा थी कि एचडीएफसी बैंक में पुरी का उत्तराधिकारी कौन होगा। जगदीशन की नियुक्ति के बाद इन चर्चाओं पर विराम लग सकेगा।

रिजर्व बैंक की मंजूरी के बारे में एचडीएफसी बैंक ने शेयर बाजारों को सूचित किया है। इसके बाद से ही निवेशकों में उत्साह का माहौल है और एचडीएफसी बैंक के शेयरों में उछाल देखने को मिला है। दोपहर 12.49 बजे एचडीएफसी बैंक के शेयर में 37.70 अंक यानी 2.17 फीसदी का उछाल आया और यह 1,777.50 के स्तर पर पहुंच गया। जबकि पिछले कारोबारी दिन यह 1,005 पर खुला था और 1,001 के स्तर पर बंद हुआ था। एचडीएफसी बैंक को चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) में 6,658.62 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ है। एक साल पहले इसी अवधि में 5,568.16 करोड़ रुपए की तुलना में यह 20 प्रतिशत ज्यादा है। हालांकि, बैंक की अन्य आय में इसी दौरान करीबन 900 करोड़ रुपए की कमी आई है। बैंक की डिपॉजिट 24.6 प्रतिशत बढ़ी है। बैंक की शुद्ध ब्याज आय (एनआईआई) 17.80 प्रतिशत बढ़कर 15,665 करोड़ रुपए रही है।

शशिधर जगदीशन के अलावा बैंक के कैजाद भरूचा और सिटिबैंक के सुनील गर्ग भी इस रेस में थे। भरूचा ईडी हैं। वे बैंक की स्टार्टअप टीम में हैं। हालांकि शशिधर के पास बैंक में लंबे समय से काम करने का अनुभव है इसके कारण उन्हें पहली प्राथमिकता दी गई है। पुरी 26 साल पहले पदभार संभालने वाले बैंक के सबसे लंबे समय तक सीईओ हैं। पुरी का कार्यकाल 26 अक्टूबर में खत्म होने वाला है। उनके कार्यकाल में एचडीएफसी बैंक संपत्ति के लिहाज से निजी क्षेत्र का सबसे बड़ा और सभी बैंकों में दूसरा बड़ा बैंक बन गया। एचडीएफसी बैंक की विकास में शशिधर जगदीशन की अहम भूमिका रही है। फाइनेंस का कामकाज संभालते समय उन्होंने कुछ सालों में लगातार टारगेट को हासिल करने में मदद की है। जगदीशन के पास बैंकिंग सेक्टर में करीब 29 साल का अनुभव है।

epmty
epmty
Top