Top

कोरोना का प्रभाव इंडिगो कर्मियों पर

कोरोना का प्रभाव इंडिगो कर्मियों पर

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का प्रकोप बरकरार है। इस हालात की वजह से देश के एविएशन सेक्टर को बड़ा नुकसान हुआ है। इसका असर देश की दिग्गज एयरलाइन कंपनी इंडिगो पर भी पड़ा है बीते दिनों कंपनी ने अपने 10 फीसदी कर्मचारियों के छंटनी का ऐलान किया था। वहीं, अब इंडिगो के सीनियर कर्मचारियों की सैलरी में 35 फीसदी तक की कटौती होगी।

मई के बाद से इंडिगो अपने वरिष्ठ कर्मियों के वेतन में 25 प्रतिशत तक की कटौती कर रही है। कंपनी ने अब घोषणा की है कि वह इस कटौती को थोड़ा और बढ़ाने जा रही है। महामारी की वजह से कंपनी के सामने खड़े हुए आर्थिक संकट से निपटने के लिए वह अपने कर्मचारियों के वेतन में 10 प्रतिशत की कटौती और करेगी। इंडिगो के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रॉन्जॉय दत्ता ने एक ई-मेल में कर्मचारियों से कहा, ''मैं अपनी खुद की वेतन कटौती को बढ़ाकर 35 प्रतिशत कर रहा हूं मैं हमारे सभी वरिष्ठ उपाध्यक्षों और उससे ऊपर के अधिकारियों से 30 प्रतिशत वेतन कटौती करने के लिए कह रहा हूं सभी पायलटों की वेतन कटौती बढ़ाकर 28 प्रतिशत कर दी गयी है जबकि सभी उपाध्यक्षों के वेतन में 25 प्रतिशत कटौती और एसोसिएट उपाध्यक्षों के वेतन में 15 प्रतिशत की कटौती होगी।''

उन्होंने कहा कि यह वेतन कटौती एक सितंबर से लागू होगी। इस घोषणा से पहले दत्ता 25 प्रतिशत, सभी वरिष्ठ उपाध्यक्ष और उससे ऊपर के अधिकारी 20 प्रतिशत, सभी उपाध्यक्ष 15 प्रतिशत और सभी एसोसिएट उपाध्यक्ष 10 प्रतिशत की वेतन कटौती ले रहे थे।

epmty
epmty
Top