Top

"आधा दर्जन नशाखोर बालक बाल कल्याण समिति के हवाले"

आधा दर्जन नशाखोर बालक बाल कल्याण समिति के हवाले

मुजफ्फरनगर:-- स्कूल जाकर शिक्षा ग्रहण कर भविष्य बनाने और खेलने कूदने की उम्र में नशाखोरी में लिप्त लगभग आधा दर्जन बालकों को चाइल्ड लाइन टीम ने अपने कब्जे में लेकर बाल कल्याण समिति को सौंपा। जिनके पुनर्वास की कार्यवाही शुरू कर दी गई है।

जिला प्रोबेशन अधिकारी मौहम्मद मुशफेकीन ने बताया कि पिछले कई दिनों से उन्हें इस बात की शिकायत मिल रही थी कि जिला चिकित्सालय के इर्द-गिर्द लगभग आधा दर्जन बालक विभिन्न तरीकों से नशा कर अपने जीवन को बर्बाद कर रहे हैं। खेलने-कूदने और स्कूल जाने की उम्र में बालकों के नशा करने का पता चलते ही जिला प्रोबेशन अधिकारी ने नशाखोर बालकों की खोजबीन कर लाने का जिम्मा चाईल्ड लाईन की टीम को सौपा।

सक्रिय हुई चाईल्ड लाईन की टीम के सदस्यों ने जिला चिकित्सालय पहुंच कर इधर-उधर पूछताछ करते हुए नशाखोर बालकों का पता लगाया। काफी देर के सतत् प्रयासों के बाद चाईल्ड लाईन की टीम बालकों की खोजबीन कर पांच बच्चों को अपने कब्जे में लेने में सफल रही। बालकों को लेकर टीम शहर कोतवाली पहुंची।

पुलिस को जानकारी देते हुए मामला रजिस्टर कराया और उन्हें बालको के पुर्नवास के लिए जिले में कार्य कर रही बाल कल्याण समिति के सुपुर्द कर दिया। बाद में टीम सदस्यों ने कब्जे में लिए गए बालकों के परिजनों से संपर्क कर उनके बच्चों के कृत्यों की जानकारी दी। कई परिजनों ने जिला प्रोबेशन अधिकारी से संपर्क कर मामले की जानकारी ली। उन्होंने बताया कि बालकों के पुर्नवास हेतु उनका स्कूल में दाखिला कराकर उन्हें सरकार की बालक कल्याण की योजनाओं से लाभान्वित किया जाएगा।


रिपोर्ट- सत्येन्द्र ठाकुर

epmty
epmty
Top