पुलिस प्रशासन को पूर्ण सहयोग प्रदान करें, गांव गांव मे सद्भावना व शांति की अपील करें

पुलिस प्रशासन को पूर्ण सहयोग प्रदान करें, गांव गांव मे सद्भावना व शांति की  अपील करें

मुजफ्फरनगर जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने आज कलैक्ट्रेट सभागार में अयोध्या प्रकरण पर सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा निकट भविष्य में आने वाले आदेश/फैसले के दृष्टिगत भूतपूर्व सैनिकों के साथ शांति समिति की बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि आने वाला फैसला देश के सर्वोच्च न्यायालय का फैसला है जिसका सभी को पूर्ण रूप से सम्मान करना है। उन्होने कहा कि उन्होने कहा कि जिले में सौहार्दपूर्ण वातावरण का माहौल है इसको कायम रखना हम सबकी जिम्मेदारी है। सभी लोग एक दूसरे का सम्मान करें व भावनाओ का आदर करे। उन्होने कहा कि यह निर्णय किसी भी दिन आ सकता है। जो भी निर्णय आये उसका तहे दिल से स्वागत किया जाये। मामला बेहद संवेदनशील है। आपसी भाईचारे एवं सौहार्द से जुडा मामला है।






जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद मुजफ्फरनगर में साम्प्रदायिक सौहार्द का अच्छा इतिहास रहा है। उन्होने कहा कि कोई भी संगठन या समूह कोई ऐसी बात नही करेगा जिससे कि साम्प्रदायिक सौहार्द पर प्रतिकूल प्रभाव पडे। उन्होने भूतपूर्व सैनिकों से कहा कि आपकों पुलिस प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलना है। उन्होने कहा कि खुराफाती तत्व व असमाजिक तत्वों पर पूरी नजर रखनी है। उन्होने कहा कि यह संवेदनशील समय है।







उन्होने कहा कि सोशल मीडिया पर इस फैसलें के संबंध में कोई मैसेज, ट्वीट या वीडियो आती है तो तत्काल सूचित करें साथ ही सेवानिवृत भूतपूर्व सैनिक गांव में जाकर इसके बारे में जागरूक करें कि मा0 सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का सभी को सम्मान करना है। इस सम्बन्ध में कोई टीका टिप्पणी नही करनी है। उन्होने कहा कि एक समूह बनाया जाये जिसमें भूतपूर्व सैनिक, सेवानिवृत सरकारी अधिकारी व कर्मचारी शामिल हो और वो गांव मे शांति व सौहार्द की अपील करे।





इस अवसर पर भूतपूर्व सैनिकों ने जिलाधिकारी केा आश्वस्त किया कि जिला प्रशासन का पूर्ण सहयोग किया जायेगा। जनपद का सौहार्द बिगडने नही दिया जायेगा। इस अवसर पर भूतपूर्व सैनिकों से सुझाव भी प्राप्त किये गये। बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन अमित सिंह, सहित भूतपूर्व सैनिक उपस्थित थे।



Top