Top

केवल रविवार को रहेगा लॉकडाउन- CM

केवल रविवार को रहेगा लॉकडाउन- CM

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना की थमती नहीं आ रही रफ्तार के कारण उपजी स्थितियों के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अनेक आवश्यक कदम उठाने के निर्देश देते हुए आज कहा कि राज्य में लॉकडाउन सिर्फ रविवार को ही रहेगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां कोरोना से जुड़ी स्थितियों की जिलेवार समीक्षा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से की। इस मौके पर राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि लॉकडाउन रविवार को ही रहेगा और लॉकडाउन का समय जिलों की परिस्थितियों के अनुसार शनिवार की रात्रि नौ बजे से दस बजे से स्थानीय प्रशासन कर सकेगा। यह लॉकडाउन सोमवार सुबह छह बजे तक रहेगा। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रदेश में कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए सभी धर्म गुरुओं, सामाजिक संगठनों, समुदायों, राजनीतिक दलों, जन अभियान परिषद, एनसीसी, एनएसएस आदि सभी के माध्यम से जन जागरूकता अभियान चलाया जाए। सभी जिलों में कोरोना के उपचार के लिए बिस्तरों की संख्या यथासंभव बढ़ाई जाए तथा उपचार की उत्कृष्ट व्यवस्थाएं हों।

बैठक में बताया गया कि कोरोना संक्रमण के मामले में तुलनात्मक रूप से मध्यप्रदेश देश में आठवें स्थान पर है। मध्यप्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरण 17 हज़ार 96 हैं। राज्य में कोरोना संक्रमण की पिछले 07 दिनों की औसत संक्रमण दर (पॉजिटिविटी रेट) 8.9 प्रतिशत है। मुख्यमंत्री के समक्ष अन्य आकड़े भी पेश किए गए। राज्य में सबसे अधिक प्रकरण इंदौर, भोपाल और जबलपुर में ही सामने आ रहे हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश देते हुए कहा कि राज्य में रंगपंचमी पर सार्वजनिक चल समारोह जैसे गैर इत्यादि का आयोजन नहीं होगा। नियंत्रित संख्या में साप्ताहिक हाट बाजार लग सकेंगे। क्लब, पिकनिक स्पॉट आदि, जहां संक्रमण फैलने की आशंका रहती है, बंद रहेंगे। दुकानों के सामने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए गोले के चिन्ह आवश्यक रूप से बनाए जाएंगे। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने पर दुकानें सील भी की जा सकेंगी। इसके अलावा मास्क नहीं लगाने पर जुर्माना लगाया जाएगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सरकारी कार्यालयों में भी मास्क लगाकर नहीं आने पर अधिकारी-कर्मचारियों पर जुर्माना लगाया जाएगा। कोरोना से प्रभावित महाराष्ट्र से लगीं मध्यप्रदेश की सीमाएं सील रहेंगी और महाराष्ट्र के लिए बसों का संचालन आगे भी बंद रहेगा। इस दौरान मेला इत्यादि का आयोजन भी नहीं किया जाएगा।

वार्ता

epmty
epmty
Top